राजस्थान

कोटपूतली फ्लाईओवर से 20 फीट नीचे गिरा केमिकल से भरा कंटेनर, लगी भीषण आग

कोटपूतली फ्लाईओवर पर चढ़ रहा एक कंटेनर पलटकर 20 फीट नीचे सड़क पर जा गिरा। इस कंटेनर में कैमिकल भरा था, जिससे उसमें भीषण आग लग गई। आग इतनी भीषण

कोटपूतली फ्लाईओवर से 20 फीट नीचे गिरा केमिकल से भरा कंटेनर, लगी भीषण आग

राजस्थान. राजस्थान में जयपुर-दिल्ली नेशनल हाईवे पर मंगलवार (6 जुलाई) सुबह बड़ा हादसा हो गया। दरअसल, कोटपूतली फ्लाईओवर पर चढ़ रहा एक कंटेनर पलटकर 20 फीट नीचे सड़क पर जा गिरा। इस कंटेनर में कैमिकल भरा था, जिससे उसमें भीषण आग लग गई। आग इतनी भीषण थी कि उसे देखकर लोगों के दिल दहल गए। इस हादसे की वजह से करीब डेढ़ घंटे तक हाईवे पर भीषण जाम लगा रहा।

यह भी पढ़े, बाइक चुराकर तालाब में डुबाने की अनोखी घटना थे, राजस्थान में पुलिस ने पकड़े दो नशेबाज अपराधी

यह है पूरा मामला:

जानकारी के मुताबिक, कैमिकल से भरा एक कंटेनर कोटपूतली से दिल्ली जा रहा था। कोटपूतली फ्लाईओवर पर चढ़ते वक्त वह पलट गया और हाईवे पर बनी सर्विस लेन में जा गिरा। इस हादसे में कंटेनर के ड्राइवर को भी चोटें लगीं। गनीमत यह रही कि जब कंटेनर सर्विस लेन में गिरा, उस वक्त कोई वाहन और राहगीर नहीं गुजर रहा था।

जान- माल की बड़ी हानि होने से बची:

मिली जानकारी के अनुसार जिस वक्त फ्लाईओवर से ट्रक सर्विस लेन में गिरा, उस वक्त कोई वाहन और राहगीर नहीं गुजर रहा था, लिहाजा एक बड़ा यहां होते- होते टल गया। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि यदि ऐसा होता तो, जान-माल की बड़ी हानि हो सकती थी। हालांकि ये बताया जा रहा है कि इस हादसे में ट्रक के ड्राइवर को भी चोटें लगीं, जिसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

ऐसे हुआ हादसा:

मिली जानकारी के अनुसार हाइवे पर जब ट्रक चढ़ रहा था, इसी दौरान ड्राइवर ने साइड दबाने की कोशिश की , लेकिन उसी वक्त ट्रक अचानक असंतुलित हो गया और सीधे फ्लाइओवर से 20 फीट नीचे आ गिरा। ट्रक में कैमिकल के ड्रम होने के कारण उनमें भी आग लग गई। बताया जा रहा है कि हादसे की सूचना मिलते ही कोटपूतली पुलिस मौके पर पहुंच गई। वहीं, मजदूरों ने कंटेनर को खाली करना शुरू किया। इसके बाद जेसीबी और क्रेन को बुलाया गया, जिससे कंटेनर को सर्विस लेन से हटाया जा सके। क्रेन से हटाते वक्त घर्षण की वजह से कैमिकल में आग लग गई, जिससे कंटेनर धू-धूकर जलने लगा। वहीं, जेसीबी भी उसकी चपेट में आ गई। आग की लपटें इतनी ऊंची थीं कि काफी दूर से भी उन्हें देखा जा सकता था।

यातायात घंटो रहा बाधित:

मिली जानकारी के अनुसार आग लगने से कैमिकल से भरे ड्रमों में धमाके होने लगे, जिससे तमाशबीनों में भगदड़ मच गई। वहीं कंटेनर को मजदूरों से खाली करवाया गया। इस दौरान पुलिस- दमकल विभाग की गाड़ियां भी मौके पर पहुंची। लिहाजा इस तरह की स्थिति के चलते यहां लंबा जाम लग गया , जिसे ट्रेफिक को क्लीयर करने में पुलिस प्रशासन को काफी मशक्कत करनी पडी और घंटों बाद यहां यातायात सुचारू हो सका।

ऐसे पाया गया हादसे पर काबू:

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि आग लगने से कैमिकल से भरे ड्रमों में धमाके होने लगे, जिससे तमाशबीनों में भगदड़ मच गई। पुलिस ने भीड़ को खदेड़ा और मामले की सूचना दमकल विभाग को दी। बताया जा रहा है कि आग बुझाने के लिए दमकल भी कम पड़ गईं। दरअसल, शुरुआत में एक दमकल की मदद से फोम डालकर आग को बुझाने का प्रयास किया गया, जिसके बाद शाहपुरा, चंदवाजी समेत अन्य जगहों से भी दमकल बुलाई गईं। आग पर करीब डेढ़ घंटे बाद काबू पाया जा सका। उस दौरान लोग घटना का वीडियो बनाते रहे।

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker