राजस्थान

अवनि ने फिर बढ़ाया देश का गौरव, भारत के नाम किया एक और मेडल

अवनि लेखरा ने टोक्यो पैरालिंपिक में 10 मीटर एयर राइफल में भारत को पहला गोल्ड दिलाया है। फाइनल में 249.6 पॉइंट हासिल कर उन्होंने यूक्रेन की इरिना शेटनिक के रिकॉर्ड की बराबरी की। शूटिंग में गोल्ड जीतने के साथ ही अवनि देश की

अवनि ने फिर बढ़ाया देश का गौरव, भारत के नाम किया एक और गोल्ड मेडल

राजस्थान. टोक्यो पैरालंपिक में भारत की अवनि लखेरा ने कमाल कर दिखाया है. मौजूदा पैरालंपिक में पहले ही गोल्ड जीत चुकी जयपुर की इस पैरा शूटर ने एक और मेडल पर कब्जा कर लिया है. अब उन्होंने महिलाओं की 50 मीटर राइफल 3 पोजिशन SH1 स्पर्धा में शुक्रवार को कांस्य पदक जीता. वह इस स्पर्धा के फाइनल में 445.9 का स्कोर कर तीसरे स्थान पर रहीं. इन खेलों में देश के पदकों की संख्या 12 तक पहुंच गई है.

इस स्पर्धा में चीन की झांग क्यूपिंग (457.9) और जर्मनी की हिलट्रॉप नताशा (457.1) क्रमशः गोल्ड और सिल्वर जीतने में कामयाब रहीं. क्वालिफिकेश में अवनि लखेरा 1176 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर रही थीं।

यह भी पढ़े, अवनि लखेरा द गोल्डन गर्ल: कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो ‘कुछ भी असंभव’ नहीं है, भारत की पहली पैरालंपिक महिला गोल्ड मेडलिस्ट ने किया है यह साबित,लगा बधाइयों का तांता

इससे पहले जयपुर की रहने वाली अवनि लेखरा ने टोक्यो पैरालिंपिक में 10 मीटर एयर राइफल में भारत को पहला गोल्ड दिलाया है। फाइनल में 249.6 पॉइंट हासिल कर उन्होंने यूक्रेन की इरिना शेटनिक के रिकॉर्ड की बराबरी की। शूटिंग में गोल्ड जीतने के साथ ही अवनि देश की पहली महिला खिलाड़ी बन गईं, जिसने ओलिंपिक या पैरालिंपिक में गोल्ड मेडल जीता हो। हालांकि इसके बाद 1 सितंबर को अवनि 10 मीटर मिश्रित एयर राइफल प्रतिस्पर्धा में क्वॉलिफाई राउंड में ही बाहर हो गई थी।

दो पैरालंपिक पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी:

अवनि लखेरा दो पैरालंपिक पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन गईं. उनसे पहले जोगिंदर सिंह सोढ़ी खेलों के एक ही चरण में कई पदक जीतने वाले पहले भारतीय थे. उन्होंने 1984 पैरालंपिक में एक रजत और दो कांस्य पदक जीते थे. उनका रजत पदक गोला फेंक में, जबकि दो कांस्य पदक चक्का फेंक और भाला फेंक में मिले थे.

मौजूदा पैरालंपिक में भारत ने अब तक 12 पदक जीते हैं. भारत के खाते में अब 2 स्वर्ण, 6 रजत और 4 कांस्य पदक हैं. यह पैरालंपिक के इतिहास में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. रियो पैरालंपिक (2016) में भारत ने 2 स्वर्ण सहित 4 पदक जीते थे.

प्रधानमंत्री मोदी ने बधाई दी:


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अवनि को बधाई दी है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा – टोक्यो पैरालंपिक में और अधिक गौरव! अवनि लखेरा के शानदार प्रदर्शन से उत्साहित हूं. उन्हें कांस्य पदक के लिए बधाई. भविष्य के प्रयासों के लिए उन्हें बहुत-बहुत शुभकामनाएं.

 

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer