बाड़मेरराजस्थान

बाड़मेर के व्यापारी को बलात्कार का झूठा मुकदमा करवाने की धमकी देकर 70 लाख मांगने वाले पति -पत्नी गिरफ्तार

बाड़मेर. कृषि मंडी के एक व्यापारी को झांसे में लेकर अपने घर बुलाकर बंधक बनाकर बलात्कार के झूठे मुकदमे में फ़साने की धमकी दे कर उससे 70 लाख रूपये की रंगदारी मांगे वाले पति पत्नी को गिरफ्तार किया। नरपत सिंह अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, बाड़मेर व आनन्दसिंह आरपीएस वृताधिकारी बाड़मेर के निकट सुपरविजन व लीलसिंह निरीक्षक पुलिस थानाधिकारी पुलिस थाना सदर बाड़मेर के नेतृत्व मे गठित टीम द्वारा कार्यवाही करते हुए अपहर्ता को मुलजिमानों के चंगुल से छुड़ाकर पति-पत्नि को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की गई है।

उधार के पैसे देने का कह कर व्यापारी को घर बुला कर बनाया बंधक

दिनांक 29.08.2021 को प्रार्थी मनोज कुमार पुत्र दाऊलाल जाति माहेश्वरी निवासी हाईस्कूल के सामने बाड़मेर पुलिस थाना कोतवाली बाड़मेर ने पुलिस थाना सदर बाड़मेर पर रिपोर्ट पेश की कि मेरा भाई घनश्याम हीराराम जाति जाट निवासी रामदेरिया हाल रामनगर बाड़मेर से दो लाख रूपये उधार मांग रहा था।

जो पैसे हीराराम द्वारा मेरे भाई को देने की बात कहकर फोन पर अपने राम नगर बाड़मेर स्थित घर पर बुलाने पर मेरा भाई अपनी मोटरसाईकिल पर हीराराम के निवास पर गया तो मेरे भाई घनश्याम को हीराराम व उसकी पत्नी ने भय में डालकर एवं उसको कमरे में बंधक बनाकर उसको छुड़ाने की एवज में घनश्याम से हीराराम व उसकी पत्नी ने सतर लाख रूपये की फिरोती की मांग की।

उक्त फिरोती की राशि नहीं देने पर उसको जान जान से मारने व बलात्कार के झूठे मुकदमें में फंसाने की धमकी दी। जिस पर पुलिस थाना सदर बाड़मेर में प्रकरण दर्ज कर तफ्तीश प्रारम्भ की गयी।

अति. पुलिस अधीक्षक द्वारा विशेष पुलिस टीम का गठन

अति. पुलिस अधीक्षक बाड़मेर नरपतसिंह व वृताधिकारी बाड़मेर आनन्दसिंह राजपुरोहित के निर्देशन में थानाधिकारी पुलिस थाना सदर लीलसिंह निरीक्षक पुलिस के नेतृत्व में थाना हाजा से जाकिर अली उपनिरीक्षक पुलिस पूनमचंद हैड कानि 210, तनसिंह हैड कानि 667, केसराराम कानि 670, महेन्द्र कुमार कानि 1073, बाबूलाल कानि 250 महिला कानि श्रीमती ईमरती 1799 , चालक कानि आसूराम 637 की टीम गठित की गई।

तीस लाख रूपये लेकर पंजाब नेशनल बैंक के सामने बुलाया

उक्त टीम द्वारा प्रार्थी मनोज कुमार को हमरा लेकर अपहर्ता घनश्याम महेश्वरी व मुल्जिमान हीराराम पुत्र चेनाराम जाति जाट निवासी रामदेरिया व उसकी पत्नी अणसी की तलाश में रवाना हुए कि रास्ते में परिवादी के पास मुल्जिम हीराराम का फोन आया कि आप अगर तीस लाख रूपये लेकर पंजाब नेशनल बैंक के सामने आ जाते हो तो आपके को छोड़ देगें नहीं तो तेरे भाई के खिलाफ बलात्कार का मुकदमा करवाकर फंसा देगें।

जिस पर परिवादी से हुई मुल्जिम की वार्तानुसार गठित टीम मय परिवादी के पंजाब नेशनल बैंक के पास पहुंचे कि जहां पर अभियुक्त हीराराम , अपहर्ता घनश्याम की मोटरसाईकिल लेकर खड़ा मिला। परिवादी द्वारा ईशारा करने पर उक्त हीराराम को दस्तयाब कर, अपहर्ता के बारे में पूछने पर उसने अपने राम नगर बाड़मेर स्थित किराये के मकान में एक कमरे में बंद कर रखा है।

जिस पर हीराराम को हमरा लेकर मुल्जिम हीराराम के मकान पर पहुंचने पर एक कमरा में अपहर्ता को बंधक बना रखा था तथा कमरे के बाहर उसकी औरत खड़ी मिली। अपहर्ता को मुल्जिमानों के चंगुल से छुड़ाकर मुल्जिम हीराराम पुत्र चेनाराम, उसकी पत्नी अणसी जाति जाट निवासी रामदेरिया पुलिस थाना सदर बाड़मेर को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की।

Sabal Singh Bhati

The Writer and Journalist.