बीकानेरराजस्थान

सवाल पूछने पर गुस्साए विधायक गोविंद मेघवाल भूले मर्यादा, बहन-बेटियों को देने लगे गालियां, थानेदार को आदेश देकर कराया गिरफ्तार

खास बातें
  • पुलिस के सामने विधायक महिलाओं को देते रही गाली
  • थानेदार को आदेश देकर युवक को कराया गिरफ्तार
  • पहले करनी माता पर विवादित टिप्पणी की थी

बीकानेर (राजस्थान). खाजूवाला विधायक और पूर्व संसदीय सचिव गोविन्द राम मेघवाल (Govind Meghwal) एक बार फिर चर्चा में है। सोशल मीडिया पर राजस्थान के कांग्रेस विधायक गोविंद मेघवाल का वीडियो वायरल हो रहा है। जहां वह जनता की समस्याओं को सुनने के दौरान गाली देते हुए नजर आ रहे हैं।

विधायक गोविंद राम मेघवाल अपने क्षेत्र का दौरा करने के लिए पहुंचे हुए हैं। विधानसभा क्षेत्र में कार्यक्रम के दौरान युवक ने सवाल कर दिया तो उन्हें गुस्सा आ गया। फिर तो सारी मर्यादाओं को लांघते हुए बहन-बेटियों के लिए अभद्र भाषा का उपयोग करते हुए उन्हें गाली देने लगे। इतना ही नहीं बाद में अपना रौब दिखाते हुए उस युवक को गिरफ्तार भी करवा दिया।

क्या है मामला

खाजूवाला के कंकराला गांव में गोविन्द मेघवाल एक स्कूल में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने गए थे। वहां गांव के ही ईश्वरराम मेघवाल ने पुराने मामले में विधायक से सवाल कर लिया और जवाब आने से पहले मोबाइल से रिकॉर्डिंग शुरू कर दी। इस पर मेघवाल तमतमा गए। करीब दो मिनट के वीडियो में विधायक कई बार बहन-बेटियों के लिए अभद्र भाषा का उपयोग करते हुए उन्हें गाली रहे हैं।

विधायक का आरोप है कि युवक केंद्रीय मंत्री व बीकानेर के सांसद अर्जुनराम मेघवाल के बेटे रवि मेघवाल का समर्थक है और वीडियो बनाकर मुझे बदनाम करने की कोशिश कर रहा है। उन्हें बदनाम करने के लिए हर बात सोशल मीडिया पर डाल देता है।

विधायक से सवाल करने वाले ईश्वरराम का आरोप है कि कुछ दिन पहले विधायक ने सार्वजनिक तौर पर कहा कि उसकी शादी उन्होंने चंदा करके करवाई है। उसी पर स्पष्टीकरण मांग रहा था। विधायक के तब के बयान के ऑडियो वायरल हुए थे।

पुलिस के सामने विधायक महिलाओं को देते रही गाली

वायरल वीडियो में विधायक गोविंद मेघवाल वह पहले तो कार में ही बैठे-बैठे लोगों को गाली देते हैं, इसके बाद गाड़ी से उतरकर महिलाओं को भी गाली देते हुए कहतें कि हम किसी के गुलाम नहीं हैं जो बार-बार यहां आएंगे। हैरानी की बात यह है कि इस दौरान पुलिस भी मौजदू थी, जो सारा नाजारा चुपचाप देखती रही।

गिरफ्तारी कितनी जायज

विधायक ने अपनी गाड़ी में बैठे-बैठे थानेदार को आवाज लगाई और युवक को गिरफ्तार करने का आदेश दे दिया। थानेदार ने इस आदेश की पालना की और तुरंत शांति भंग करने के आरोप में युवक ईश्वरराम को गिरफ्तार कर लिया।

गोविंद डोटासरा ने बनाया था प्रदेश उपाध्यक्ष

बता दें कि गोविंद मेघवाल बीकानेर जिले के खाजूवाला से विधायक हैं। पहले वसुंधरा सरकार में संसदीय सचिव थे, फिर दल बदल कर कांग्रेस में चले गए थे। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद डोटासरा ने उनको प्रदेश उपाध्यक्ष बनाकर उनका कद बढ़ाया था। फिलहाल वह गहलोत सरकार में मंत्रीमंडल के विस्तार में लगे हुए हैं। उनको उम्मीद है कि सरकार उन्हें मंत्री बना सकती है।

विधायक का पूरा परिवार राजनीति में…

विधायक गोविंद मेघवाल का पूरा परिवार राजनीति में है। राजस्थान में पिछले साल हुए पंचायत चुनावों में अपनी पत्नी-बेटी और बेटे को टिकिट दिलवाया था। जिसके बाद उन पर परिवारवाद के आरोप भी लगे थे। हालांकि वह जिला परिषद के चुनाव में पत्नी और बेटी को जिताने में सफल हुए थे।

पहले करनी माता पर विवादित टिप्पणी की थी

14 अप्रैल 2017 को बाबा साहेब अम्बेडकर की जयंती के मौके पर बीकानेर में आयोजित एक कार्यक्रम में गोविन्द मेघवाल ने प्रसिद्ध करणी माता समेत हिन्दू—देवी देवताओं को लेकर अपमानजनक टिप्पणियां की थी। तब देशनोक मंदिर ट्रस्ट से जुड़े लोगों ने करणी माता के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया था।

 

Sabal Singh Bhati

The Writer and Journalist.