बाड़मेरराजस्थान

बस और बोलेरो की आमने-सामने भिड़ंत : हादसे में 4 महिलाओं की दर्दनाक मौत,12 से अधिक लोग घायल

नेशनल हाईवे 68 पर बस और बोलेरो कैंपर की आमने-सामने भिड़ंत हो गई. हादसे में 4 महिलाओं की दर्दनाक मौत हो गई. साथ ही करीब 12 से अधिक लोग घायल हो गए, जिन्हें मेडिकल कॉलेज के

बस और बोलेरो की आमने-सामने भिड़ंत : हादसे में 4 महिलाओं की दर्दनाक मौत,12 से अधिक लोग घायल

बाड़मेर. जिले में शुक्रवार देर रात नेशनल हाईवे 68 पर बस और बोलेरो कैंपर की आमने-सामने भिड़ंत हो गई. हादसे में 4 महिलाओं की दर्दनाक मौत हो गई. साथ ही करीब 12 से अधिक लोग घायल हो गए, जिन्हें मेडिकल कॉलेज के राजकीय चिकित्सालय लाया गया है. अस्पताल में घायलों का इलाज जारी है
बोलेरो और बस की भिड़त इतनी तेज थी बोलेरो का पीछे का हिस्सा करीब 200 फीट दूर जाकर गिरा और बाकी हिस्सा पेड़ में जा घुसा।
दुर्घटन में घायल 10 लोगों में से एक गंभीर घायल को जोधपुर रेफर कर दिया गया है। घायलों को जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। भीषण सड़क हादसे की सूचना के बाद कलेक्टर लोक बंधु और एसपी आनंद शर्मा अस्पताल पहुंचे।

घटना में सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को अपने कब्जे में लिया. पुलिस ने चारों शवों को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में रखवाया है. वहीं, घटना की सूचना पर बाड़मेर के जिला कलेक्टर लोक बंधु, पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नरपत सिंह, अतिरिक्त जिला कलेक्टर ओमप्रकाश विश्नोई अस्पताल पहुंचे और घायलों का बेहतर इलाज करवाने के निर्देश दिए.

शुक्रवार की रात को सुदाबेरी निवासी बोलेरा कैंपर से लोहावट देवी-देवता के दर्शन कर अपने गांव जा रहे थे। चौहटन चौराहे से निकलकर कुछ ही किलोमीटर की दूरी पर गई कि सामने से आ रही रोडवेज बस की गोलाई में आमने-सामने से भिड़ गई। बस से टकराने के बाद बोलेरो के हिस्से टूट-टूट कर गिर गए। बस में चार-पांच लोग ही सवार थे उनको मामूली चोटे आई हैं। बोलेरो कैंपर में बच्चे, महिलाओं सहित 18 लोग सवार थे। जिन चार महिलाओं की मौत हुई है, वे सभी बोलेरो में सवार थीं।

बोलेरा में सवार महिला ने बताया कि हम सब लोहावट जात (धार्मिक रीतियां) देने के लिए गए हुए थे। वहां से वापस अपने गांव जा रहे थे। सब लोग राजी-खुशी थे। गाडी में बैठे बाते-बाते कर रहे थे। इस दौरान जोर से धमाका हुआ फिर कुछ पता ही नहीं चला जब होश आया तो अस्पताल में थे। पता नहीं कैसे हादसा हो गया।

यह भी पढ़े : सड़क हादसे में एक परिवार के दो लोगों की मौत,कार का टायर फटने से हुआ हादसा,पोकरण से जोधपुर आ रहा था परिवार

बोलेरो के बिखरे परख्च्चे

बस और कैंपर के बीच इतनी भंयकर भिड़त थी कि बोलेरो के परख्चे उड़ गए। कैपर के पीछे का हिस्सा (ट्रोला) करीब 200 फीट दूर जाकर गिरा। इसमें करीब 10 लोग बैठे थे। इसमे अधिकांश महिलाये थी। पीछे बैठी महिलाओं में से ही 4 महिला सरीता (20) पत्नी ओमप्रकाश निवासी सदराम की बेरी, वालीदेवी (45) पत्नी मोहनराम, भंवरीदेवी (22) पत्नी श्रवण निवासी सांवा, पप्पु देवी (40) पत्नी बाबुलाल की मौके पर मौत हो गई। 10 लोग बाबुलाल (33) पुत्र जगमाल, ओमप्रकाश (21) पुत्र सुजानाराम, प्रवीण (22) पुत्र सुजानाराम, सिणगारी (45) पत्नी मालाराम, हीरादेवी (40) पत्नी सुजानाराम, बुधाराम (40) पुत्र केसाराम, रामेश्वरी (30) पत्नी बाबूलाल, मीरा (70) पत्नी अन्नाराम, भजनलाल (35) पुत्र सुखराम, श्रवण (25) पुत्र सुजानाराम निवासी सांवा घायल हो गए।

रात को करीब 12 बजे एएसीपी नरपतसिह व सदर पुलिस जाकिर हुसैन मय जाब्ता घटना स्थल पहुंचे उन्होने मौके देखा और रोड़ के आसपास भी देखा कि कोई और घायल तो नहीं है।

अच्छे इलाज करने के दिये निर्देश : जिला कलेक्टर

जिला कलेक्टर लोकबंधु ने कहा कि सड़क हादसे की सूचना मिलने पर मैं खुद अस्पताल आया और डॉक्टरों को निर्देश दिए हैं कि अच्छा इलाज करें. मरीजों का सीटी स्केन भी करवाया गया है. उन्होंने बताया कि सीनियर डॉक्टरों को रात में रहकर अच्छे से इलाज करने का निर्देश दिया है.

हादसा बहुत ही दर्दनाक: एसपी

वहीं, एसपी आनंद शर्मा ने बताया कि हादसा बहुत ही दर्दनाक हुआ है. हादसे में चार महिलाओं की मौके पर ही मौत हो गई और करीब 12 लोग घायल हैं. उन्होंने बताया कि शनिवार को सुबह हम लोग घटना स्थल का मौका देखेंगे कि कहीं रोड़ में कोई डिफॉल्ट या कोई कमी तो नहीं है।

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer