जैसलमेरराजस्थान

जैसलमेर में पाक बॉर्डर के पास मिग-21 फाइटर जेट क्रैश, पायलट शहीद

जैसलमेर के पास एक और मिग-21 विमान क्रैश हो गया है। सूत्रों के मुताबिक जिस जगह फाइटर जेट गिरा है, वह पाक बॉर्डर के पास है। इस हादसे में पायलट की भी मौत हो गई है।

जैसलमेर | जैसलमेर (Jaisalmer) में पाक बॉर्डर(Pak Border) के पास एक और मिग-21 विमान क्रैश (Mig 21 plane crash) हो गया है। सूत्रों के मुताबिक जिस जगह फाइटर जेट गिरा है, वह पाक बॉर्डर के पास है। इस हादसे में पायलट की भी मौत हो गई है।

जानकारी के मुताबिक यह एरिया सुदासरी डेजर्ट नेशनल पार्क में है। यह एरिया मिलिट्री के कंट्रोल में है, इसलिए वहां किसी को जाने नहीं दिया जा रहा है। विमान लगभग साढ़े आठ बजे क्रैश हुआ है। विमान अपनी नियमित उड़ान पर था। हादसे की जगह जैसलमेर से करीब 70 किमी दूर है। गौरतलब है कि इससे पहले अगस्त 2021 में भी बाड़मेर में एक मिग-21 विमान क्रैश हुआ था।

रूस और चीन के बाद भारत सबसे बड़ा ऑपरेटर रूस और चीन के बाद भारत मिग-21 का तीसरा सबसे बड़ा ऑपरेटर है। 1964 में इस विमान को पहले सुपरसोनिक फाइटर जेट के रूप में एयरफोर्स में शामिल किया गया था। शुरुआती जेट रूस में बने थे और फिर भारत ने इस विमान को असेम्बल करने का अधिकार और तकनीक भी हासिल कर ली थी।

जैसलमेर में पाक बॉर्डर के पास मिग-21 फाइटर जेट क्रैश, पायलट शहीद
जैसलमेर में पाक बॉर्डर के पास मिग-21 फाइटर जेट क्रैश, पायलट शहीद

तब से अब तक मिग-21 ने 1971 के भारत-पाक युद्ध, 1999 के कारगिल युद्ध समेत कई मौकों पर अहम भूमिका निभाई है। रूस ने तो 1985 में इस विमान का निर्माण बंद कर दिया, लेकिन भारत इसके अपग्रेडेड वैरिएंट का इस्तेमाल करता रहा है।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें निहारिका टाइम्स हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Niharika Times Android Hindi News APP