राजस्थान

Rain Alert: राजस्थान व मध्यप्रदेश में भारी बारिश की चेतावनी, 4 अगस्त तक चलेगा यह दौर

Rain Alert: मौसम विभाग ने राजधानी जयपुर समेत कई जिलों के लिए येलो अलर्ट भी जारी किया है. प्रदेशभर में सावन की झड़ी लग चुकी है. राजधानी समेत कई हिस्सों में जोरदार बारिश का दौर देखने को मिल रहा है.

Rain Alert: राजधानी दिल्ली में रविवार की सुबह झमाझम बारिश से हुई है. पिछले 24 घंटे से कई राज्यों में बारिश का दौर जारी है. मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश और राजस्थान के कई जिलों में आज यानि रविवार को भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है. इसके साथ ही विभाग ने बताया है कि देश के पूर्वी हिस्से में मानसून के आगे बढ़ने के साथ पश्चिम बंगाल के ऊपर निम्न दबाव का क्षेत्र बना हुआ है, जिसके पश्चिम की ओर झारखंड और बिहार की तरफ बढ़ने के आसार हैं. इस वजह से इन राज्यों में भी आज भारी बारिश होगी.

यह भी पढ़े, एअर इंडिया एक्सप्रेस की फ्लाइट के शीशे में आई दरार को देखते हुए की गई आपातकालीन लैंडिंग

राजस्थान में झमाझम बारिश (Rain) का दौर जारी है. मौसम विभाग ने रविवार के लिए बारां जिले के लिए रेड अलर्ट (Red Alert) जारी किया है. साथ ही 8 अन्य जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. वहीं, मौसम विभाग ने राजधानी जयपुर समेत कई जिलों के लिए येलो अलर्ट भी जारी किया है. प्रदेशभर में सावन की झड़ी लग चुकी है. राजधानी समेत कई हिस्सों में जोरदार बारिश का दौर देखने को मिल रहा है. झमाझम बारिश का यह दौर 4 अगस्त तक चलने की संभावना है. मौसम विभाग ने रविवार को बारां जिले के कुछ स्थानों पर अति भारी से अत्यंत भारी बारिश की संभावनाएं जताते हुए रेड अलर्ट जारी किया है. इसके अलावा अजमेर, टोंक, करौली, सवाईमाधोपुर, भीलवाडा, बूंदी, चित्तौडगढ, प्रतापगढ जिलों में एक दो स्थानों पर भारी से अति भारी बारिश की संभावना जताते हुए ऑरेंज अलर्ट (Orange Alert) जारी किया है.

मौसम विभाग के निदेशक राधे श्याम शर्मा ने बताया कि उत्तर-पश्चिम झारखंड और उससे सटे बिहार पर स्थित Well Marked Low Pressure Area अब दक्षिण पश्चिम बिहार और आसपास के क्षेत्र पर बना हुआ है. इससे सम्बंधित चक्रवाती परिसंचरण समुद्र तल से 7.6 किमी तक फैला हुआ है. इसके अगले दो दिनों के दौरान इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा की ओर आगे बढ़ने की संभावना है. इसके अलावा एक अन्य कम दबाव का क्षेत्र दक्षिणी हरियाणा के ऊपर स्थित है. और सम्बंधित चक्रवाती परिसंचरण (Circulation) समुद्र तल से 5.8 किमी तक विस्तरित है. जिसके कारण राजस्थान में भी झमाझम बारिश का दौर जारी है.

4 अगस्त तक सक्रिय रहेगा मानसूनमौसम विभाग के अनुसार 4 अगस्त तक पूर्वी राजस्थान में लगभग सभी स्थानों और पश्चिमी राजस्थान में अधिकांश स्थानों पर बारिश होने की सम्भावना है. इस दौरान राज्य में कहीं- कहीं भारी से अति भारी ( 204.4-64.5 मिमी) बारिश होने व आगामी तीन दिन एक दो स्थानों पर अत्यंत भारी ( 204.5 मिमी) वर्षा होने की संभावना है.
शनिवार को भी जमकर बरसे मेघवहीं, राजधानी जयपुर समेत प्रदेश के कई हिस्सों में शनिवार को झमाझम बारिश दर्ज की गई है. राजधानी जय़पुर में शुक्रवार रात से ही बारिश का दौर देखने को मिला. राजधानी में पिछले 24 घंटों में करीब 120 मिलीमीटर से भी ज्यादा बारिश दर्ज की गई है. छुट्टी का दिन होने के कारण लोगों ने भी बारिश का खूब लुत्फ उठाया.

अगले चार दिनों तक इन राज्यों में होगी तेज बारिश:

मौसम विभाग के मुताबिक उत्तर और मध्य भारत के कुछ रज्यों में अगले चार दिनों में तेज बारिश होने का अनुमान है. विभाग के मुताबिक पूर्वी उत्तर प्रदेश में भी कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है और अगले तीन दिनों में यहां भारी बारिश होने की संभावना है.  एक से दो अगस्त के बीच पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कहीं छिटपुट तो कहीं तेज बारिश हो सकती है.

वहीं एक अगस्त को जम्मू-कश्मीर और पंजाब में, दो अगस्त तक हिमाचल प्रदेश और चार अगस्त तक उत्तराखंड और हरियाणा में भारी बारिश होने की संभावना है.आइए जानते हैं आज देश के किन हिस्सों में भारी बारिश की संभावना है।

मध्य प्रदेश के 22 जिलों के लिए रेड और आरेंज अलर्ट जारी:

मौसम विभाग की तरफ से मध्यप्रदेश के 22 जिलों के लिए भारी से अत्यधिक भारी बारिश का आरेंज और रेड अलर्ट जारी किया है. सतना, गुना, श्योपुर, छतरपुर और टीकमगढ़ जिलों में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है जबकि प्रदेश के 17 जिलों शहडोल, उमरिया, अनूपपुर, रीवा, सीधी, सिंगरौली, पन्ना, दमोह, सागर, नीमच, मंदसौर, अशोक नगर, शिवपुरी, ग्वालियर, दतिया, भिंड और मुरैना के लिए भारी वर्षा का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है.

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer