सुनीता कंवर

सरपंच चुनाव के लिए दुबई से लाखों की नौकरी छोड़ आई बहू सुनीता कंवर का क्या रहा चुनावी रिजल्ट

- राजस्थान पंचायत चुनाव 2020 में दूसरा चरण के तहत 22 जनवरी को मतदान हुआ है। तीसरा चरण 29 जनवरी को है। पहला चरण के तहत 17 जनवरी को मतदान व परिणाम घोषित हो चुके है।

राजस्थान पंचायत चुनाव 2020 ( Rajasthan Panchayat Chunav 2020 ) में सीकर जिले की बहू सुनीता कंवर सबसे हाई प्रोफाइल प्रत्याशियों में से एक हैं। बुधवार शाम को दूसरे चरण के मतों की गणना की गई, जिसमें सुनीता कंवर नांगल ग्राम पंचायत से तीसरे स्थान पर रही हैं। इन्हें कुल 158 मत मिले।

पंचायत चुनाव में सामान्य सीट पर गीता यादव लगातार दूसरी बार सरपंच चुनी गई। ग्राम नांगल में पिछले 20 साल में लगातार चार महिलाएं सरपंच की कुर्सी पर काबिज हो चुकी हैं। अब पांचवीं बार भी सरपंच की कमान महिला के हाथ में ही आई है।

इस बार नांगल से चुनाव मैदान में उतरी दुबई से आई सुनीता कंवर ( Sunita Kanwar ) सामने गीता देवी यादव ने चुनाव लड़ा। साथ ही हीरा सिंह सामोता ने भी ताल ठोकी थी। इस त्रिकोणीय संघर्ष में गीता देवी ने बाजी मारते हुए सुनीता कंवर व हीरा सिंह को हरा दिया।

गीता देवी ने हीरा सिंह समोसा को 1044 वोटों से मात दी। वहीं 25 लाख का सालाना पैकेज छोड़ कर दुबई से आ कर चुनाव लडऩे वाली सुनीता कंवर तीसरे नंबर पर रही।

गीता देवी को दी बधाई

गीता यादव को विजेता बनने पर सुनीता कंवर ने शॉल पहनाकर स्वागत किया। उन्होंने कहा कि वह सदैव उनके साथ रहेंगे एवं ग्राम विकास में उनसे जो भी बन पड़ेगा वह सहयोग करेगी।

शिपिंग कंपनी में करती थीं नौकरी

सीकर जिले की श्रीमाधोपुर पंचायत समिति की नांगल ग्राम पंचायत की सरपंच बनने के लिए सुनीता कंवर दुबई से नौकरी छोड़कर आई है। दुबई में एक शिपिंग कंपनी में सुनीता कंवर 25 लाख के सालाना पैकेज पर थी।

सुनीता कंवर सरपंच का चुनाव लड़ने के लिए अपने ससुराल नांगल पहुंची तो दुबई की मॉर्डन लाइफ स्टाइल को छोड़ यहां की संस्कारी बहू के रूप में पहचान बनाई। राजपूत महिलाओं की पारंपरिक वेशभूषा में सुनीता कंवर गांव के घर-घर में चुनाव प्रचार करती नजर आईं।

 

More Stories
राजस्थान सियासी संकट के बीच गहलोत गुट के कांग्रेसी विधायक पहुंचे जैसलमेर