दर्शन

विश्व वृद्ध दिवस: 100 वर्ष पार करने वाली वृद्ध महिला ने बताया अपनी लम्बी उम्र का राज, किस तरह कोरोनाकाल में भी रही स्वस्थ

विश्व वृद्ध दिवस: किसी की यह चाहत पूरी हो यह जरूरी नही है। लेकिन पीपलू क्षेत्र के बीजवाड़ में 80 सदस्यों (विश्व वृद्ध दिवस) के परिवार की मुखिया मूली देवी पत्नी लादूलाल की 105 वर्ष की उम्र है।

विश्व वृद्ध दिवस: पीपलू. हर कोई चाहता है लम्बी उम्र, और भारत मे आशीर्वाद भी लम्बी उम्र होने का ही दिया जाता है। दीर्घायु होना कौन नही चाहता लेकिन हर किसी की यह चाहत पूरी हो यह जरूरी नही है। लेकिन 1पीपलू क्षेत्र के बीजवाड़ में 80 सदस्यों (विश्व वृद्ध दिवस) के परिवार की मुखिया मूली देवी पत्नी लादूलाल की 105 वर्ष की उम्र है।
यहां तक पहुंचने के बाद भी वे खुद अपने दैनिक कार्य करती है।

यह भी पढ़े, Hindi Diwas 2021: हिंदी दिवस के मौके पर पीएम मोदी व अमित शाह ने ट्वीट कर दी शुभकामनाएं, आप भी अपने दोस्तों को को इन wishes से दें शुभकामनाएं

उनकी स्वस्थ दिनचर्या के चलते कोरोना काल में भी बुखार तक भी पास नहीं फटका। वृद्धा मूली देवी अपने स्वास्थ्य (विश्व वृद्ध दिवस) के प्रति बेहद जागरूक है। वे इस उम्र में भी नियमित रूप से सुबह 5 बजे उठती है। अपनी दिनचर्या से संबंधित सभी बिना किसी की मदद लिए वे स्वयं करती है। वह युवा अवस्था में जहां खेती-बाड़ी करते हुए परिवार का पालन पोषण करने में योगदान दिया है। वहीं प्रार्थना, भजन आज उसके जीवन का हिस्सा है। मूली देवी की सोच अत्यंत आशावादी है।

पहले घने जंगल, अब नजर नहीं आते:

मूली देवी गुर्जर (विश्व वृद्ध दिवस) अपनी लडखड़़ाती आवाज में बताती हैं कि चक्की का आटा, कुएं का पानी, खेत का अनाज खाकर जीवन जीया हैं। अपने खान-पान के बूते ही आज वह पूर्णत: स्वस्थ है। साथ ही कभी मेडिकल दवा के सेवन की आवश्यकता नहीं पड़ी है।

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer