स्पोर्ट्स

वायुसेना अर्जन सिंह मेमोरियल हॉकी टूर्नामेंट सोमवार से होगा शुरू

चंडीगढ़, 17 अप्रैल ()। वायुसेना अर्जन सिंह मेमोरियल हॉकी टूर्नामेंट का तीसरा मार्शल 18 से 22 अप्रैल तक यहां 3 बीआरडी में आयोजित किया जाएगा, जिसमें भारत के अलावा कनाडा, मलेशिया, बांग्लादेश और श्रीलंका की टीमें भाग लेंगी।

वायुसेना खेल नियंत्रण बोर्ड (एएफएससीबी) 2018 से टूर्नामेंट का आयोजन कर रहा है।

एयर ऑफिसर प्रभारी प्रशासन एयर मार्शल के. अनंतरमन ने रविवार को मीडिया को बताया कि मार्शल ऑफ द एयर फोर्स अर्जन सिंह का हॉकी के खेल के प्रति जुनून अद्वितीय था। वह न केवल युद्धों में, बल्कि खेल के क्षेत्र में भी नेतृत्व करने के लिए वायु योद्धाओं के लिए एक प्रेरणा थे।

उन्होंने कहा कि भारतीय वायुसेना लगातार ऐसे एथलीट तैयार कर रही है, जिन्होंने विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भारत का प्रतिनिधित्व किया है। देश और भारतीय वायुसेना के लिए ख्याति अर्जित की है।

उन्होंने कहा कि वायुसेना के मार्शल के जन्म शताब्दी वर्ष 2019 में बांग्लादेश और श्रीलंका की वायुसेना हॉकी टीमों की भागीदारी के साथ वायुसेना अर्जन सिंह मेमोरियल हॉकी टूर्नामेंट के दूसरे मार्शल के सफल आयोजन द्वारा मनाया गया।

इसने टूर्नामेंट को एक अंतर्राष्ट्रीय आयोजन में बदला गया।

एयर कमोडोर वी. राजशेखर ने कहा कि इस बार टूर्नामेंट के लिए पुरस्कार राशि बढ़ा दी गई है। 300,000 रुपये की राशि प्रथम पुरस्कार होगी, जबकि उपविजेता को 200,000 रुपये मिलेंगे।

सभी 15 मैचों में मैन ऑफ द मैच को 10,000 रुपये मिलेंगे।

विंग कमांडर वाई.एस. एएफएससीबी के आयोजन सचिव और सचिव पंघाल ने कहा कि टूर्नामेंट के तीसरे संस्करण में भाग लेने के लिए रॉयल कैनेडियन, मलेशियाई, बांग्लादेश और श्रीलंका की वायुसेना हॉकी टीमों सहित भारत में 12 टीमों को आमंत्रित किया गया है।

इसके अलावा रेल कोच फैक्ट्री, इंडियन ऑयल, इंडियन नेवी, सीआईएसएफ, पंजाब नेशनल बैंक, इंडियन आर्मी, इंटीग्रल कोच फैक्ट्री चेन्नई, दक्षिण मध्य रेलवे, पंजाब पुलिस और भारतीय वायुसेना की हॉकी टीमें भी टूर्नामेंट का हिस्सा होंगी।

इस अवसर पर भाग लेने वाली सभी टीमों की उपस्थिति में वायुसेना के तीसरे मार्शल अर्जन सिंह मेमोरियल हॉकी टूर्नामेंट ट्रॉफी का भी अनावरण किया गया।

सोमवार को उद्घाटन समारोह के दौरान प्रशासन प्रभारी वायु अधिकारी मुख्य अतिथि होंगे, जबकि 22 अप्रैल को समापन समारोह की अध्यक्षता वायुसेना प्रमुख करेंगे।

आरजे/एसजीके