स्पोर्ट्स

5वीं एलीट महिला राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैंपियनशिप की गुरुवार से शुरुआत

हिसार, 20 अक्टूबर ()। विश्व चैंपियनशिप 2018 की कांस्य पदक जीतने वाली सिमरनजीत कौर और मौजूदा एशियाई चैंपियन पूजा रानी के साथ-साथ कई अन्य प्रमुख मुक्केबाज गुरुवार से हरियाणा के हिसार के सेंट जोसेफ इंटरनेशनल स्कूल में शुरू हो रही 5वीं एलीट महिला राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैंपियनशिप में खिताब की प्रबल दावेदारों में शामिल हैं।

हरियाणा बॉक्सिंग संघ के सहयोग से आयोजित होने वाले प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में देशभर के 36 राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों और बोर्डो के 320 से अधिक मुक्केबाज हिस्सा ले रहे हैं।

पंजाब की सिमरनजीत कौर (60 किग्रा) और हरियाणा की पूजा रानी (81 किग्रा) के अलावा 2019 में आयोजित विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली जमुना बोरो (54 किग्रा), गत चैंपियन पविलाओ बसुमतारी (60 किग्रा) और एशियाई चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली जैस्मीन (60 किग्रा) को खिताब के लिए प्रतिस्पर्धा करते हुए देखा जा सकेगा।

27 अक्टूबर तक खेले जाने वाले इस टूर्नामेंट में मौजूदा युवा विश्व चैम्पियन मणिपुर की बेबीरोजिसाना नोरेम (54 किग्रा), सनमाचा थोकचोम (75 किग्रा) और राजस्थान की अरुंधति चौधरी (70 किग्रा) भी एक्शन में नजर आएंगी।

कोविड-19 महामारी के बाद घरेलू सर्किट के फिर से शुरू होने के बाद से यह छठी राष्ट्रीय चैंपियनशिप जिसका आयोजन बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (बीएफआई) करा रहा है। इससे पहले बीएफआई ने जूनियर, युवा और पुरुषों के राष्ट्रीय चैम्पियनशिप का सफल आयोजन किया है।

टूर्नामेंट का उद्घाटन समारोह गुरुवार को होगा जिसमें उपायुक्त हिसार डॉ. प्रियंका सोनी मुख्य अतिथि होंगी। इस समारोह में बीएफआई महासचिव हेमंत कुमार कलिता और कोषाध्यक्ष दिग्विजय सिंह भी शरीक होंगे।

चैंपियनशिप मुक्केबाजी की वैश्विक नियामक संस्था-एआईबीए के 12 भार वर्गो के अनुसार खेली जाएगी। ये भार वर्ग हैं- 48 किग्रा, 50 किग्रा, 52 किग्रा, 54 किग्रा, 57 किग्रा, 60 किग्रा, 63 किग्रा, 66 किग्रा, 70 किग्रा, 75 किग्रा, 81 किग्रा और प्लस 81 किग्रा।

इस चैंपियनशिप के स्वर्ण और रजत पदक विजेता राष्ट्रीय कोचिंग शिविर में स्थान अर्जित करेंगे। प्रत्येक श्रेणी में शिविर के लिए शेष दो नामों का चयन सेलेक्शन ट्रायल में उनके प्रदर्शन के आधार पर किया जाएगा, जो कि इस प्रतियोगिता के ठीक बाद आयोजित होगा। ट्रायल्स में, कांस्य पदक विजेता पिछली राष्ट्रीय चैंपियनशिप-रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड (आरएसपीबी), हरियाणा और अखिल भारतीय पुलिस की शीर्ष -3 टीमों की दूसरी टीम का प्रतिनिधित्व करने वाले मुक्केबाजों के साथ प्रतिस्पर्धा करेंगे।

साल 2019 में केरल के कन्नूर में आयोजित चैंपियनशिप के पिछले संस्करण में, रेलवे स्पोर्ट्स प्रोमोशन बोर्ड ने छह स्वर्ण पदक के साथ टीम चैंपियनशिप का खिताब जीता था, जबकि हरियाणा उपविजेता रहा था।

आरएसके/एसजीके

Sabal Singh Bhati

Sabal Singh Bhati is the Chief Editor at Niharika Times. He tweets @sabalbhati Views are personal.