उत्तर प्रदेशभारत

अमेठी में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी बोले, भाजपा परिवारवादी पार्टी नहीं

अमेठी, 25 दिसम्बर ()। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कार्यकर्ताओं की पार्टी हैं, इसमें वंशवाद और परिवारवाद के लिए कोई जगह नहीं है।

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को अमेठी में 753 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। इस मौके पर केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी और यूपी के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य मौजूद रहे। इस दौरान नितिन गडकरी ने कहा कि मैं कभी पोस्टर चिपकाने का काम करता था, एक छोटा-सा कार्यकर्ता था लेकिन ये भारतीय जनता पार्टी ही है जहां एक कार्यकर्ता इतनी बड़ी कुर्सी पर बैठा है, क्योंकि भाजपा कार्यकर्ताओं की पार्टी है, परिवारवाद की नहीं है।

नेहरू-गांधी परिवार पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए केन्द्रीय मंत्री ने कहा, अमेठी में जो विकास 50 साल में नहीं हुआ, स्मृति ईरानी के प्रयास से भाजपा की सरकार ने दो साल में ही करके दिखा दिया।

गडकरी ने कहा कि आजादी के दशकों बीतने के बाद भी देश में शिक्षा, चिकित्सा, पेयजल की उचित व्यवस्था नहीं थी, लेकिन अटल जी (पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी) नीत सरकार ने इस दिशा में काम शुरू किया और आज देश के साढ़े छह लाख गांवों में से पांच लाख गांव प्रधानमंत्री सड़क योजना के जरिये पक्की सड़क से जुड़ चुके हैं।

केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने अमेठी के साथ परिवार का रिश्ता होने के कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के वक्तव्य पर तंज कसते हुये केन्द्रीय मंत्री एवं स्थानीय सांसद स्मृति ईरानी ने कहा कि पारिवारिक रिश्ते वाला व्यक्ति घर से दूर भागता नहीं है। स्मृति ने कहा दो दिनों के लिये अमेठी आने की बात करने वाले राहुल यहां आये तो सही मगर महज आधे घंटे रुकने के बाद लौट गये। अगर उनका यहां के लोगों से परिवार जैसा रिश्ता होता तो ढाई साल बाद आने पर वह कम से कम ढाई घंटे तो यहां की जनता के बीच बिताते। परिवार का व्यक्ति घर के नजदीक रहना चाहता है, न कि घर से दूर भागता फिरता है।

उन्होंने दावा किया कि राहुल प्रियंका की रैली के लिये कांग्रेस शासित पड़ोसी राज्य छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश से भीड़ जुटानी पड़ी थी। अमेठी के विकास को लेकर राहुल के दावों को सिरे से नकारते हुये स्मृति ने कहा कि उन्हे यह भी बताना चाहिये कि यहां सैनिक स्कूल का निर्माण कब हुआ, मेडिकल कालेज कब अस्तित्व में आया और आयुष केन्द्र कब खुला। उन्होंने कहा कि अब तो कांग्रेस के कई नेता भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अपना नेता मान चुके हैं। हिन्दू और हिन्दुत्व पर राहुल के बयान पर पलटवार करते हुए उन्होने कहा कि हिन्दू और हिन्दुत्व कभी अलग नहीं हो सकते।

प्रियंका का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि जो आज यह नारा दे रही हैं कि मैं लड़की हूं-लड़ सकती हूं आजादी के बाद से लगातार उनकी पार्टी की सरकारी रही, लेकिन महिलाओं के लिए एक शौचालय भी नहीं बनवा सकी।

यूपी के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सपा, बसपा, कांग्रेस में कोई फर्क नहीं है, सभी एक ही थाली के चट्टे-बट्टे हैं। उन्होंने अमेठी की सभी सीटों पर जीत का दावा करते हुए कहा कि इस बार का चुनाव 2017 के विधानसभा चुनाव से भी महत्वपूर्ण है। उन्होंने विपक्षियों पर धर्म व जातिवाद की राजनीति करने का आरोप लगाया और कहा कि चुनाव आते ही ये हिंदू बन जाते हैं।

विकेटी/एएनएम