देश विदेश

अनाज की सुरक्षा महत्वपूर्ण मुद्दा

बीजिंग, 12 अप्रैल ()। हाईनान चीन में फसल बीज का मुख्य प्रजनन आधार है। हर साल सर्दियों और वसंत के मौसम में देश के हजारों वैज्ञानिक और तकनीशियन बीज उपजाने के लिए हाईनान पहुंचते हैं। करीब 179 वर्ग किलोमीटर के अनुसंधान संरक्षण क्षेत्र में देश की लगभग 70 प्रतिशत नई किस्मों की फसलें तैयार होती हैं। याचोवान बीज प्रयोगशाला की स्थापना मई 2021 में हुई, जो बीज की सुरक्षा सुनिश्चित करने और बीज व्यवसाय के उच्च गुणवत्ता वाले विकास में महत्वपूर्ण योगदान देता है।

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग अनाज के उत्पादन और सुरक्षा पर बड़ा ध्यान देते हैं। 10 अप्रैल को याचोवान बीज प्रयोगशाला के दौरे के दौरान उन्होंने कहा कि बीज चीन में अनाज सुरक्षा की कुंजी है। चीनी बीजों को अपने हाथों में पकड़कर ही देश में अनाज सुरक्षा सुनिश्चित होगी। अनाज का स्रोत नियंत्रण में करना चाहते हैं, तो बीज तकनीक के क्षेत्र में आत्मनिर्भर होना होगा। यह रणनीतिक महत्व वाला मुद्दा है।

चीनी कहावत है कि हाथों में अनाज है तो दिल शांत होता है। बड़ी आबादी के लिए भोजन की व्यवस्था करना हमेशा चीन सरकार की प्राथमिकता रही है। चीन ने दुनिया की सिर्फ 9 प्रतिशत कृषि योग्य भूमि से 1.4 अरब लोगों के खाने की समस्या हल की। वर्ष 2021 में चीन में अनाज का उत्पादन 68 करोड़ 28 लाख 50 हजार टन रहा, जो लगातार 7 सालों से 65 करोड़ टन से अधिक है। चीन में खाद्यान्न उत्पादन ने फिर एक नया रिकोर्ड बनाया है। महामारी की रोकथाम की स्थिति में यह उपलब्धि मिलना आसान नहीं है।

अनाज सुरक्षा विश्व शांति और विकास की अहम गारंटी है और मानव समुदाय के साझे भविष्य के निर्माण का आधार भी है। लेकिन महामारी और परिवर्तन की वजह से विश्व आर्थिक पुनरुत्थान की गति धीमी रही। दुनिया में 80 करोड़ लोग भुखमरी की स्थिति में हैं और महामारी से भूखे लोगों की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है। संयुक्त राष्ट्र संघ के वर्ष 2030 अनवरत विकास कार्यसूची के सामने गंभीर चुनौती मौजूद है। अनाज प्राप्त करने में असमानता दूर करने के लिए जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं।

पिछले साल सितंबर में 76वीं संयुक्त राष्ट्र महासभा की आम बहस में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने अनाज सुरक्षा को सहयोग का मुख्य क्षेत्र बनाने का सुझाव पेश किया। इसका उद्देश्य अनाज की सुरक्षा सुनिश्चित करने के जरिए और अधिक लोगों को भुखमरी के खतरे से निकालना है और अधिक देशों व क्षेत्रों की कृषि उत्पादन की अनवरत क्षमता को उन्नत करना है, ताकि समान समृद्धि साकार हो सके।

चीन में अनाज सुरक्षा दुनिया से अलग नहीं हो सकती, वहीं दुनिया की खाद्यान्न सुरक्षा में चीन की जरूरत है। चीन लगातार विभिन्न देशों के साथ सहयोग करेगा और विश्व अनाज सुरक्षा सुनिश्चित करने में नया योगदान देगा।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

एएनएम