अपराधदेश विदेश

बांग्लादेश में महिला पर्यटक से सामूहिक दुष्कर्म

ढाका, 25 दिसम्बर ()। बांग्लादेश के कॉक्स बाजार जिले में एक महिला पर्यटक के साथ कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। महिला से दुष्कर्म के दौरान बदमाशों ने उसके पति और बेटे को बंधक बना लिया था।

पुरुषों के एक समूह ने लबोनी प्वाइंट इलाके से पीड़िता के पति और बच्चे को बंधक बना लिया और कथित तौर पर उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया।

आरएबी-15 के कमांडर लेफ्टिनेंट कर्नल खैरुल इस्लाम ने को बताया कि अर्धसैनिक बल की एलीट यूनिट के अधिकारियों ने गुरुवार दोपहर करीब 1.30 बजे पीड़िता को जिया गेस्ट इन से बचाया।

बल ने होटल प्रबंधक को हिरासत में लिया और सीसीटीवी कैमरे से वीडियो फुटेज की जांच के बाद अपराधियों की पहचान की।

अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी गई है।

शुक्रवार को कानून मंत्री अनीसुल हक ने को बताया, कॉक्स बाजार के वरिष्ठ न्यायिक दंडाधिकारी हमीमुन तंजिन ने शाम करीब पांच बजे पीड़िता का बयान दर्ज किया।

मंत्री ने कहा, अपराध करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

शुक्रवार रात तक पुलिस ने किसी की गिरफ्तारी नहीं की थी।

महिला अधिकार कार्यकर्ताओं और कानूनी विशेषज्ञों ने को बताया कि देश में अभी भी एक मजबूत कानून का अभाव है जो दुष्कर्म के खिलाफ सुरक्षा के रूप में काम करे।

उन्होंने देश की दुष्कर्म पीड़ितों के लिए न्याय की मांग की और अधिकारियों से कम उम्र से ही यौन शिक्षा शुरू करने का आह्वान किया।

लीरहो के कार्यकारी निदेशक नूरजहां खान ने को बताया, पिछले 50 वर्षों से, हम महिलाओं के कानूनी अधिकार के लिए लड़ रहे हैं। फिर भी, पुलिस अपराध को नियंत्रित करने के बजाय, दुष्कर्म पीड़िता पर आरोप लगाती है। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करने से भी इनकार कर दिया था। हालांकि, हम आभारी हैं आरएबी के। यदि वे नहीं होते तो अपराधियों की पहचान भी नहीं की गई थी।

हाल के महीनों में दुष्कर्म की घटनाओं ने बांग्लादेश में महिलाओं की सुरक्षा पर गंभीर चिंता जताई है और देश में 2021 के पहले 11 महीनों में रोजाना औसतन तीन मामले सामने आए हैं।

जनवरी-नवंबर की अवधि में कम से कम 1,247 महिलाएं दुष्कर्म का शिकार हुईं। उनमें से 46 की मौत हो गई, जबकि नौ ने आत्महत्या कर ली।

आरएचए/एएनएम