देश विदेश

अमेरिकी संस्कृति में प्राकृतिक विरोधाभास

नई दिल्ली, 25 दिसम्बर ()। अमेरिकी संस्कृति में प्राकृतिक विरोधाभास मौजूद है। एक तरफ अमेरिका अपने को अपवाद देखता है। उसकी नजर में अमेरिका मुक्ति की पौराणिक कहानी है और प्रतिनिधित्व भी है। अमेरिका की सफलता का श्रेय अमेरिकी भावना को जाता है ।

दूसरी तरफ, वह अमेरिकी किस्म वाले लोकतंत्र की व्यापकता पर कायम रहकर मुक्ति के नाम पर विदेशों में तथाकथित लोकतांत्रिक प्रतिरोपण का प्रसार करता है।

लेकिन विदेशों में लोकतांत्रिक प्रतिरोपण करने में अमेरिका अकसर हार जाता है, जैसे वियतनाम, ईराक और अफगानिस्तान आदि देशों में अमेरिका की हार।

कुछ हद तक अमेरिका को लोकतांत्रिक प्रतिरोपण का बैकफायर मिल रहा है ।

(साभार—चाइना मीडिया ग्रुप , पेइचिंग)

एएनएम