देश विदेश

तुर्की ने 112 सैनिकों के खिलाफ जारी किया वारंट

अंकारा, 24 नवंबर ()। तुर्की ने जुलाई 2016 में एक असफल तख्तापलट की कोशिश में संदिग्ध रूप से भूमिका होने पर 112 सैनिकों और सैन्य स्कूल के कुछ पूर्व छात्रों के खिलाफ बड़े पैमाने पर अभियान शुरू किया है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, तुर्की के पश्चिमी इजमिर शहर के अभियोजकों ने अपनी जांच पूरी करने के बाद आदेश दिए। इस जांच के दायरे में 22 प्रांतों को कवर किया जाएगा।

इस मामले में अब तक 76 संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है और यह अभियान जारी है।

एजेंसी के अनुसार, इजमिर में 2019 से मुख्य लोक अभियोजक के कार्यालय द्वारा आयोजित योजनाबद्ध जांच के दायरे में कुल 3,338 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

अंकारा ने असफल तख्तापलट के मास्टरमाइंड के लिए अमेरिका स्थित मौलवी फेतुल्लाह गुलेन और उसके गिरोह को दोषी ठहराया है।

गुलेन ने इस आरोप से इनकार किया है।

राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन ने मंगलवार को कहा कि तुर्की इन भगोड़ों के प्रत्यर्पण में मजबूत एकजुटता दिखाएगा।

इस्तांबुल में एक वीडियो संदेश के माध्यम से अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक पुलिस संगठन की एक बैठक को संबोधित करते हुए, एर्दोगन ने कहा कि उनका देश सभी प्रकार के आतंकवाद के खिलाफ एक दृढ़ संघर्ष कर रहा है।